Apple (AAPL)

कंपनी का इतिहास:

Apple की स्थापना 1 अप्रैल, 1976 में स्टीव जॉब्स और स्टीव वोज़नियक ने की थी और इसका मुख्य कार्यालय क्यूपर्टिनो, सीए में अवस्थित है। 

इन “दोनों स्टीव” ने कंपनी की स्थापना इस परिकल्पना के साथ की थी कि महँगे कंप्यूटर तकनीक का एक उपयोगकर्ता अनुकूल वर्शन बनाया जाए जो घर और व्यवसाय दोनों प्रकार के उपयोग के लिए व्यापक रूप से उपलब्ध हो। Apple II कंप्यूटर और Apple Disk II के बाज़ार में आने से Apple का नाम घर-घर में मशहूर हो गया।  

इन दोनों उत्पादों ने पहले प्री-असेंबल्ड निजी कंप्यूटर के रूप में इतिहास रचा जिसमें कीबोर्ड और कलर ग्राफ़िक्स के साथ-साथ आज तक का सबसे आसान और सबसे सस्ता फ्लॉपी डिस्क स्टोरेज डिवाइस मौजूद था। 

1970 के अंत में अपने क्रांतिकारी शुरुआत से Apple आज का अंतर्राष्ट्रीय रूप से पूजनीय प्रौद्योगिकी दिग्गज बन चुका है जिसका विश्वभर में कंप्यूटर, संगीत और दूरसंचार उद्योगों पर बोलबाला है।

Apple की ट्रेडिंग करना: आपके लिए क्या जानना ज़रूरी है

  • 12 दिसंबर, 1980 को Apple सार्वजनिक बनी और 1956 में Ford Motor Company के बाद से सभी IPO से अधिक पूंजी ले कर आई। वर्तमान में, इसकी ट्रेडिंग NASDAQ पर की जाती है।
  • इतिहास में किसी भी कंपनी ने इतने लोगों को करोड़पति नहीं बनाया जितना कि Apple IPO ने (300 से भी अधिक)।
  • 1976 में इसकी स्थापना से, कंपनी ने कई उतर-चढ़ाव देखे हैं। 1980 के अंत से शुरू करते हुए 90 के पूरे दशक में Apple एक बहुत ही कठिन दौर से गुज़री जिस दौरान यह अपने प्रतिस्पर्धी Microsoft, आंतरिक होड़, और नव परिवर्तन की अभाव के कारण काफी पिछड़ गई।
  • वर्तमान में, यह दुनिया का विशालतम सार्वजानिक रूप से ट्रेड किया जाने वाला कॉर्पोरेशन है।
  • Apple ने अपनी सारी खोई प्रतिष्ठा दोबारा हासिल की और 2000 के बीच तक इसने Microsoft तथा दूसरे प्रतिद्वंदियों को पीछे छोड़ दिया।
  • एक बार फिर से स्टीव जॉब्स के नेतृत्व में Apple ने अपने कंप्यूटर सॉफ्टवेर में परिवर्तन कर उसे एक नया रूप दिया, Intel-आधारित प्रणालियाँ बनाने की शुरुआत की, पहले को बाज़ार में उतारा, और Microsoft का साझेदार बना।
  • iTunes और iPod की शुरुआत के साथ इसने अपने विशालकाय ओहदे को सुरक्षित किया तथा संगीत उद्योग में अग्रणी बन गया। iPad, iOS सॉफ्टवेर, और प्रसिद्ध iPhone स्मार्टफ़ोन तकनीक की रिलीज़ के साथ इसने अपने उच्च प्रौद्योगिकी बाज़ार शेयर में और भी बढ़ोतरी की।
  • मध्य 2014 में यह स्मार्टफ़ोन बाज़ार शेयर में 41% से भी अधिक धारण करते हुए अग्रणी विक्रेता रहा, हालाँकि, एक बड़ी संख्या में प्रतिस्पर्धियों के ताकत के लिए संघर्ष को देखते हुए, Apple के व्यापारियों इस पर कड़ी नज़र बनाए रखनी चाहिए।
  • 28 जून, 2014 तक, जब Apple ने अपने वित्तीय तीसरे तिमाही आय की घोषणा की तब अंतर्राष्ट्रीय बिक्री में उसके राजस्व का 59% शामिल था जिसमें राजस्व का अधिकांश भाग iPhone और Mac की बिक्री से आया था।
  • उसी अवधि के लिए कंपनी ने 7.7 बिलियन का निवल लाभ पोस्ट किया जो कि पिछले वर्ष 6.9 बिलियन डॉलर था।

कोई भी व्यक्ति जो Apple की ट्रेडिंग करना चाहता है उसे ट्रेडिंग से पहले
बहुत ध्यान से मार्केट के हालात का विश्लेषण करना चाहिए। 

AAPL ट्रेड करें